September 26, 2021

कवरेज इंडिया

खबर पल-पल की

क्या मुंगरा की नर्सरी में नहीं उग रहे विधायक?आयातित क्यों?पायलट ऑफिसर राधेश्याम पांडेय पूँछ रहे सवाल..

अभिनव ओझा। कवरेज इंडिया मुंगराबादशाहपुर

मुंगराबादशाहपुर विधानसभा का अगला विधायक कौन होगा इस बात को लेकर क्षेत्र में बहस चल रही है।लोगों की जुबान पर एक ही सवाल है कि आखिर मुँगरा की नर्सरी में विधायक नहीं उग रहे हैं क्या?जो राजनीतिक दल आयातित उम्मीदवार उतार देते है।भारत सरकार के वित्त मंत्रालय में अपर महानिदेशक पद से सेवानिवृत्त हुए पायलट ऑफिसर राधेश्याम पांडेय का दावा है आजादी की जंग से लेकर आजादी के बाद प्रशासनिक सेवा में मुंगरा बादशाहपुर के लोगों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।पूरे देश में मुंगरा बादशाहपुर का नाम ऊंचा किया है।आध्यात्मिक क्षेत्र में विख्यात मुँगरा की धरती में उपजे जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य जी महाराज पूरी दुनिया में जाने पहचाने जाते हैं।आजादी की जंग में इसी माटी में पैदा हुए सैकड़ों क्रांतिकारियों ने जान की बाजी लगाकर अंग्रेजी हुकूमत की नींव हिला दी।फिर मुंगरा की धरती को अनउपजाऊ मानकर आयातित को महत्व देना कितना तर्कसंगत है?राजनीतिक दल क्यों आयातित को यहां के लोगों का प्रतिनिधित्व करने का दायित्व सौंपते है। सभी राजनीतिक दलों को इस बिंदु पर विचार करना होगा।आयातित को मुँगरा क्षेत्र के लोगों का नेतृत्व सौंपना क्षेत्र के लोगों का अपमान है।मुँगरा की उपजाऊ माटी में पैदा हुआ ही इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करेगा विधायक बनेगा विधानसभा में क्षेत्र के लोगों की आवाज बुलंद करेगा।अब किसी भी परिस्थिति में आयातित को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *