28.1 C
Delhi
Wednesday, October 20, 2021

प्रयागराज में बोले ओवैसी: मैं यूपी के मुसलमानों का नेता बनने आया हूं, अतीक अहमद को घोषित किया उम्मीदवार

- Advertisement -

कवरेज इंडिया न्यूज़ डेस्क प्रयागराज

उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर के अब हर राजनीतिक पार्टी की गतिविधियां तेज़ हो गई है. शनिवार को प्रयागराज के अटाला के मजीदिया इस्लामिया इंटर कॉलेज में Aimim के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी प्रयागराज आएंगे. तकरीबन दो से ढाई घंटे तक अटाला क्षेत्र के मजीदिया इस्लामिया इंटर कॉलेज के ग्राउंड में एक सभा को संबोधित किया और साथ में इस कार्यक्रम को सफल आयोजन करने के लिए बाहुबली नेता पूर्व सांसद अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन और उनके दो बेटे अली और असद मंच पर उपस्थित थे अतीक अहमद की पत्नी ने जेल से आए पैगाम को सुनाया बेटे अली ने अपनी अपने पिता की पुरानी बातों लोगों के बीच में रखा, इस दौरान उनकी पत्नी के आंखों में आंसू भी झलक उठे.

 

यह भी पढ़े – http://बड़े बड़े पत्रकारों को अपने जेब में रखता हूं तुम्हारी क्या औकात है?? पढ़िए दलबदलू नेता ने और क्या कहा!

 

प्रयागराज में अटाला स्थित मजीदिया इस्‍लामिया इंटर कालेज में कार्यकर्ता सम्‍मेलन को उन्‍होंने संबोधित किया. उन्‍हें सुनने के लिए हजारों की संख्‍या में भीड़ जुटी थी. उन्‍होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार ने जनता के साथ धोखा किया है. पिछड़े वर्ग के साथ धोखा किया गया है. ओवैसी ने कहा कि किसी के खिलाफ अगर जुल्म होता है तो ओवैसी पहले बोलेगा.

 

हैदराबाद के सांसद बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी आज प्रयागराज में आम जन को संबोधित करते हुए कहा कि सपा बसपा कांग्रेस इन लोगो ने मुस्लिम वोटों को लिया और मुस्लिम समाज के लोगों को इस्तेमाल किया है.लेकिंग अब मुसलमान अपना हक लेकर रहेगा. ओवैसी ने एकजुट होने की भी अपील की है.

मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मुसलमानों से उत्तर प्रदेश में आगामी राज्य चुनावों में अपने उम्मीदवारों का समर्थन करने का आग्रह किया. पुराने शहर के मजीदिया इस्लामिया कॉलेज ग्राउंड में एक बड़ी सभा को संबोधित करते हुए, ओवैसी ने मेरठ में मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी पर चुप रहने के लिए समाजवादी पार्टी और कांग्रेस पर निशाना साधा. एआईएमआईएम प्रमुख ने पूर्व सांसद अतीक अहमद और उनके परिजनों के लिए समर्थन हासिल किया, जिनके आगामी चुनावों में विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों से चुनाव लड़ने की उम्मीद है.

 

यह भी पढ़े – http://दुबई से भारत लाया जाएगा प्रयागराज का मोस्ट वांटेड ‘राशिद’, शाइन सिटी कम्पनी के माध्यम से की थी 60 हजार करोड़ की ठगी

 

“समाजवादी पार्टी, कांग्रेस मौलाना कलीम की गिरफ्तारी पर अन्य समुदायों के वोट खोने के डर से चुप है. समाजवादी पार्टी और कांग्रेस मुसलमानों को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करती रही हैं, लेकिन राजनीति और नौकरियों में उनके समान प्रतिनिधित्व के लिए कुछ भी नहीं किया है. वे मुसलमानों के विभिन्न मुद्दों पर चुप रहते हैं और उन्हें 60 साल से धोखा दे रहे हैं. सपा और कांग्रेस के नेता खुद मुसलमानों के साथ हो रहे अन्याय पर खामोश रहते हैं और दावा करते हैं कि ऐसे मुद्दों पर मेरे बयान से बीजेपी को फायदा होता है.

 

सांप्रदायिक राजनीति करने के लिए भाजपा पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा कि अतीक, मुख्तार, आजम खान और सैकड़ों मुसलमान जेल में बंद हैं, जबकि मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी भाजपा नेताओं के खिलाफ मामले वापस ले लिए गए हैं. यहां तक ​​कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अपने खिलाफ आपराधिक मामले वापस ले लिए. भाजपा सरकार ने समुदाय पर कार्रवाई के तहत अतीक और कई अन्य मुसलमानों के घर को ध्वस्त कर दिया. इसके अलावा, हाल ही में भाजपा सरकार द्वारा पेश किया गया धर्मांतरण विरोधी कानून अत्यधिक विवादास्पद है, उन्होंने आरोप लगाया.

 

यह भी पढ़े – http://नरेंद्र गिरि के अतिथि कक्ष को किया गया सील, साधू संतो सहित पुलिसकर्मियों से भी होंगे सवाल

 

एआईएमआईएम प्रमुख ने इन समुदायों से आगामी चुनावों में अपनी पार्टी का समर्थन करने और वोट देने का आग्रह करते हुए कहा कि न केवल मुसलमानों बल्कि दलितों, ओबीसी, आदिवासियों के अधिकार भी खतरे में हैं. अपनी पत्नी शाइस्ता परवीन द्वारा पढ़े गए जेल से अतीक के पत्र पर टिप्पणी करते हुए ओवैसी ने कहा कि वह देश में किसी के साथ अन्याय के खिलाफ हैं. अतीक और उनका परिवार पीड़ित हैं लेकिन समाजवादी पार्टी जिन्होंने कई सालों तक उनका इस्तेमाल किया, उनके लिए कुछ नहीं बोला. “यह समय है कि मुसलमानों को इस डर के बिना एआईएमआईएम को वोट देना चाहिए कि पार्टी को उनके वोट से बीजेपी को फायदा हो सकता है. मुसलमानों को समाजवादी पार्टी और दलितों के बसपा के साथ गठबंधन के लिए यादव समुदाय के समर्थन के समान एआईएमआईएम का समर्थन करना चाहिए.ओवैसी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दोबारा भाजपा की सरकार नहीं बने, इसके लिए सभी को एकजुट होना होगा. बोले कि मुसलमानों को अपना वोट सही जगह पर देना होगा. उन्‍होंने कहा कि अब नहीं जागोगे तो कब जागोगे.

 

यह भी पढ़े – http://जानिए कहां के रहने वाले थे महाराज नरेंद्र गिरी? कहां कहां और कितनी है संपत्ति ?

 

अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन के एआईएमआईएम ज्वाइन करने के बाद ओवैसी का यह पहला प्रयागराज दौरा था. जिसका असर अतीक अहमद के लोगों पर काफी दिखा योगी सरकार की ओर से आपरेशन नेस्तनाबूद के तहत कार्रवाई किए जाने के बाद अतीक के समर्थक काफी मायूस हो गए थे और अतीक अहमद और ओवैसी के पक्ष में नारेबाजी की गई. अतीक के समर्थकों ने प्रयागराज में अपना प्रभाव दिखाने का प्रयास किया. अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने अतीक के द्वारा जेल से लिखा गया पत्र पढ़ा.

 

अतीक अहमद के जेल से आया हुआ पत्र उनकी पत्नी द्वारा पढ़ा गयाा

शाइस्ता परवीन अतीक अहमद द्वारा दिया गया पत्र पढ़ते हुए भावुक हो उठी उनके बेटे अली ने भी अपने पिता अतीक अहमद पुरानी बातों को बताया.
शाइस्ता परवीन के साथ तमाम मुस्लिम महिलाएं भी आई थी. पूर्व सांसद अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने उनके द्वारा प्रयागराज के लोगों को संबोधित एक भावनात्मक पत्र पढ़ा. अतीक ने आरोप लगाया कि समाजवादी पार्टी ने कई वर्षों तक राजनीतिक लाभ के लिए उनका इस्तेमाल किया और चुनाव नजदीक आने पर उन्हें जेल भेज दिया. समाजवादी पार्टी मुस्लिम नेताओं को चाहती है जो अपने समुदाय के लिए आवाज नहीं उठाते. मैंने समाजवादी पार्टी को इस क्षेत्र में जमीन हासिल करने और हर संभव तरीके से पार्टी की मदद करने में मदद की. अतीक ने पुलिस और अन्य नौकरियों में 22 प्रतिशत मुस्लिम प्रतिनिधित्व की मांग की. अतीक ने बीजेपी पर अहमदाबाद जेल में AIMIM प्रमुख से मिलने नहीं देने का आरोप लगाया. अतीक ने स्वीकार किया कि उसने और उसके रिश्तेदारों और सहयोगियों द्वारा गलतियाँ की हैं. “मैं मानता हूं कि मेरे कुछ रिश्तेदारों ने लोगों को परेशान किया लेकिन मुझे उनकी हरकतों की जानकारी नहीं थी. उन्होंने मुझे धोखा भी दिया और मैं सभी गलत कामों के लिए माफी मांगता हूं. मैं प्रयागराज और अन्य जगहों के लोगों से आगामी चुनावों में AIMIM का समर्थन करने और धर्मनिरपेक्ष होने का दिखावा करने वाली अन्य पार्टियों का बहिष्कार करने का आग्रह करता हूं ”अतीक ने अपने पत्र में कहा.

- Advertisement -spot_img
Latest news
- Advertisement -

खबरे जरा हटके

राजनीति

Related news

मनोरंजन

भारत