8.1 C
Delhi
Wednesday, January 26, 2022

LoC पर घुसपैठ की कोशिश कर रहा था पाकिस्तानी आतंकवादी, भारतीय सेना ने गोलियों से भूना

spot_img

घुसपैठिए को पहले समर्पण के लिए चुनौती दी गई थी, लेकिन बाद में नियंत्रण रेखा पर तैनात जवानों ने उसे मार गिराया।मेजर जनरल अभिजीत एस पेंढारकर, जीओसी 28 डिवीजन ने कुपवाड़ा में पत्रकारों से हुई चर्चा में कहा, 'नियंत्रण रेखा के पार दोनों सेनाओं के बीच चल रहे युद्धविराम समझौते के उल्लंघन हुआ है।

- Advertisement -
spot_img
spot_img

कवरेज इंडिया न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली: भारतीय सेना ने जम्मू कश्मीर में कुपवाड़ा जिले के केरण सेक्टर में पाकिस्तानी सेना की बॉडर्र एक्शन टीम की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम किया और इसके साथ ही एक घुसपैठिए को भी ढेर कर दिया। अट्ठाइस माउंटेन डिवीजन के जनरल अफसर कमांडिंग मेजर जनरल अभिजीत पेंढारकर ने कुपवाड़ा में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि शनिवार को दोपहर करीब 3 बजे पठानी सूट और काली जैकेट पहने एक घुसपैठिया संघर्षविराम समझौते का पूरी तरह से उल्लंघन करते हुए सीमा पार से इस तरफ घुसने की कोशिश कर रहा था।

घुसपैठिए को पहले समर्पण के लिए चुनौती दी गई थी, लेकिन बाद में नियंत्रण रेखा पर तैनात जवानों ने उसे मार गिराया।मेजर जनरल अभिजीत एस पेंढारकर, जीओसी 28 डिवीजन ने कुपवाड़ा में पत्रकारों से हुई चर्चा में कहा, ‘नियंत्रण रेखा के पार दोनों सेनाओं के बीच चल रहे युद्धविराम समझौते के उल्लंघन हुआ है। एक जनवरी को कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश की गई। वहां तैनात सैनिकों ने त्वरित कार्रवाई में उस आतंकवादी को मार गिराया, जिसे बाद में एक पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद शब्बीर मलिक के रूप में पहचाना गया।

‘ उन्होंने आगे कहा, ‘यह स्पष्ट रूप से स्थापित करता है कि पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद को प्रायोजित करना जारी रखता है। पाकिस्तानी सेना को संदेश भेजकर मारे गए व्यक्ति का शव वापस लेने के लिए कहा गया है।’अधिकारी के अनुसार, बैट को नियमित पाकिस्तानी सैनिकों और आतंकवादियों का मिश्रण कहा जाता है, जो सीमा पर भारतीय सेना पर हमलों के लिए जाने जाते हैं। पाकिस्तान ने हमेशा इन आरोपों का खंडन किया है। मारे गए व्यक्ति के सामान की तलाशी में पाकिस्तानी राष्ट्रीय पहचान पत्र और टीकाकरण प्रमाण पत्र (पाकिस्तान के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा विनियमन और समन्वय सरकार मंत्रालय द्वारा जारी) से पता चला कि उसकी पहचान मोहम्मद शब्बीर मलिक के रूप में हुई है। सामान में सेना की वर्दी में शब्बीर के नाम का टैब पहने घुसपैठिए की एक तस्वीर भी शामिल है।’

- Advertisement -spot_img
Latest news
- Advertisement -

खबरे जरा हटके

राजनीति

Related news

मनोरंजन

भारत