कवरेज इंडिया

खबर पल-पल की

यूपी राजर्षि टण्डन मुक्त विश्वविद्यालय का 15वां दीक्षान्त समारोह 4 मार्च को, गोरखपुर की लक्ष्मी गुप्ता को मिलेगा कुलाधिपति स्वर्ण पदक

1 min read

कुलदीप शुक्ला। कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क प्रयागराज

राजर्षि टंडन मुक्त  विश्व विद्यालय, प्रयागराज का 15वां दीक्षान्त समारोह आगामी 04 मार्च 2021 को पूर्वान्ह 10.00 बजे सरस्वती परिसर स्थित नवनिर्मित आडिटोरियम में कोविड-19 प्रोटोकाल का अनुपालन करते हुए आयोजित किया जायेगा। दीक्षान्त समारोह की अध्यक्षता राज्यपाल एवं कुलाधिपति श्रीमती आनंदीबेन पटेल करेंगी। दीक्षान्त समारोह के मुख्य अतिथि श्री मुकुल कानिटकर, अखिल भारतीय संगठन मंत्री, भारतीय शिक्षण मण्डल, नागपुर दीक्षान्त भाषण देंगे। 15वें दीक्षान्त समारोह में विभिन्न विद्याशाखाओं में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले शिक्षार्थियों को 19 स्वर्ण पदक प्रदान किये जायेंगें, जिनमें 05 स्वर्ण पदक छात्रों तथा 14 स्वर्णपदक छात्राओं की झोली में जायेंगे। दीक्षान्त समारोह में सत्र दिसम्बर 2019 तथा जून 2020 की परीक्षा के सापेक्ष उत्तीर्ण लगभग 28659 हजार शिक्षार्थियों को उपाधि प्रदान की जायेगी, जिसमें 15492 पुरूष तथा 13167 महिला शिक्षार्थी हंै। यह जानकारी कुलपति प्रो. कामेश्वर नाथ सिंह ने सोमवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में दी।

 

प्रो0 सिंह ने बताया कि सरस्वती परिसर स्थित नवनिर्मित आडिटोरियम में दीक्षान्त समारोह के भव्य आयोजन के लिये सभी आवश्यक तैयारियां कर दी गयी हैं। दीक्षान्त समारोह में शामिल होकर उपाधि प्राप्त करने के लिये लगभग 556 शिक्षार्थियों ने आनलाइन पंजीकरण कराया है। विश्वविद्यालय से हिन्दी, कम्प्यूटर साइंस और कामर्स में शोध कार्य (पी-एच0डी0) पूर्ण करने वाले तीन शिक्षार्थियों को दीक्षान्त समारोह में शोध उपाधि प्रदान की जायेगी। दीक्षान्त समारोह में शामिल होने के लिये सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश से शिक्षार्थी आ रहे हैं। उनमें काफी उत्साह है। यह दीक्षान्त समारोह भारतीय पारम्परिक परिधान में आयोजित किया जायेगा। दीक्षान्त समारोह में उपाधि प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं के लिये सफेद धोती कुर्ता या पाजामा/पीली साड़ी या सलवार सूट निर्धारित किया गया है।

प्रो0 सिंह ने बताया कि 15वें दीक्षान्त समारोह में कुलाधिपति स्वर्ण पदक गोरखपुर क्षेत्रीय केन्द्र के अन्तर्गत आने वाले अध्ययन केन्द्र दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर की छात्रा लक्ष्मी गुप्ता को दिया जायेगा। लक्ष्मी गुप्ता ने बी0एड0 विषय की परीक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की तथा समस्त विद्याशाखाओं की स्नातक एवं स्नातकोत्तर परीक्षाओं में उत्तीर्ण समस्त स्नातक/परास्नातक शिक्षार्थियों में सर्वाधिक 82.07 प्रतिशत अंक प्राप्त किये।

कुलपति प्रो0 सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक इस बार स्नातकोत्तर वर्ग में विद्याशाखाओं के 05 टापर्स को दिए जा रहे है, जिसमें मानविकी विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक सिंगासनी देवी महिला महाविद्यालय, नेमा, देवरिया अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत एम0ए0 (संस्कृत) के छात्र रंजय कुमार सिंह को, समाज विज्ञान विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक किसान मजदूर महाविद्यालय, भीटी, मऊ अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत एम0ए0 (राजनीतिशास्त्र) के छात्र रजत विश्वकर्मा को, प्रबन्धन अध्ययन विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, श्री रति राम महाविद्यालय, नन्दगांव, मथुरा अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत एम0काम0 की छात्रा तिवारी स्वाति रमाशंकर को, शिक्षा विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, श्री बाबा साधवराम महाविद्यालय, कोईनहां, बरसरा खालसा, आजमगढ़ अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत एम0ए0 (शिक्षाशास्त्र) की छात्रा नेहा सिंह को तथा विज्ञान विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, श्री रति राम महाविद्यालय, नंदगांव, मथुरा अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत एम0एस0सी0 (बायोकेमिस्ट्री) के छात्र स्वप्निल चैहान को दिया जायेगा।

 

इसी प्रकार स्नातक वर्ग में विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक इस बार विद्याशाखाओं के 6 टापर्स को दिया जायेगा। जिसमें मानविकी विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, सरदार पटेल स्मारक महाविद्यालय, लारपुर रोड, अम्बेडकरनगर अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0ए0) की छात्रा विभा यादव को, समाज विज्ञान विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, रामस्वरूप ग्रामोद्योग स्नातकोत्तर महाविद्यालय, पुखरायां, कानपुर देहात अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0ए0) की छात्रा रिद्धि सिंह को, प्रबन्धन अध्ययन विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, श्री रति राम महाविद्यालय, नंदगांव, मथुरा अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0काॅम0) की छात्रा अंजली को, कम्प्यूटर एवं सूचना विज्ञान विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, सर्वोदय कालेज आफ टेक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट, देवरिया अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0सी0ए0) की छात्रा वीनस चैरसिया को, शिक्षा विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0एड0) की छात्रा लक्ष्मी गुप्ता को तथा विज्ञान विद्याशाखा से विश्वविद्यालय स्वर्ण पदक, श्री बाबा साधवराम महाविद्यालय, कोईनहां, बरसरा खालसा, आजमगढ़ अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0एस0सी0) के छात्र अभिनन्दन यादव को प्रदान किया जायेगा।

 

प्रो0 सिंह ने बताया कि इस बार आठ मेधावी शिक्षार्थियों को दानदाता स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जायेगा जिसमें बाबू ओमप्रकाश गुप्त स्मृति स्वर्ण पदक, दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय, गोरखपुर अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत बी0एड0 की छात्रा लक्ष्मी गुप्ता को, श्री कैलाशपत नेवेटिया स्मृति स्वर्ण पदक क्षेत्रीय केन्द्र, प्रयागराज अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत छात्रा शगुफ्ता खान को, स्व0 अनिल मीना चक्रवर्ती स्मृति स्वर्ण पदक स्नातक वर्ग में रामस्वरूप ग्रामोद्योग स्नातकोत्तर महाविद्यालय, पुखरायां, कानपुर देहात अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत स्नातक (बी0ए0) की छात्रा रिद्धि सिंह को तथा एम0ए0 समाजकार्य में क्षेत्रीय अध्ययन केन्द्र गोरखपुर से पंजीकृत छात्रा आशा यादव को दिया जायेगा।

 

इसके साथ ही तीन अन्य दानदाता स्वर्ण पदक भी मेधावी छात्रों को दिये जायेंगे। जिसमें प्रो0 एम0पी0 दुबे पर्यावरण/गांधी चिन्तन एवं शान्ति अध्ययन उत्कृष्टता स्वर्ण पदक, मोतीलाल नेहरू डिग्री कालेज, कौंघियारा, प्रयागराज अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत मनीष कुमार मिश्रा तथा प्रो0 एम0पी0 दुबे दिव्यांग मेघा स्वर्णपदक टी0डी0 कालेज, जौनपुर अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत छात्र शाहनवाज सिद्दिकी को दिया जायेगा। महान राष्ट्रकवि श्रद्धेय पं0 सोहन लाल द्विवेदी स्मृति स्वर्णपदक श्री बाबा साधवराम महाविद्यालय, कोईनहां, बरसरा खालसा, आजमगढ़ अध्ययन केन्द्र से पंजीकृत एम0ए0 (हिन्दी) की छात्रा निकिता को दिया जायेगा।

 

प्रो0 सिंह ने बताया कि यह एक अभूतपूर्व समारोह होगा, जिसमें जनपद के जूनियर हाईस्कूल के चयनित विद्यार्थियों सहित स्वावलम्बी महिलाओं का स्वयं सहायता समूह भी शामिल होगा जो इस सारस्वत समारोह से प्रेरणा ले सकें।

 

प्रो0 सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय का 15वां दीक्षान्त समारोह पाॅलिथिन मुक्त होगा। इसके साथ ही क्लीन कैम्पस-ग्रीन कैम्पस के सिद्धान्त पर परिसर में हरियाली पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। समारोह स्थल के आस-पास कोविड-19 के प्रोटोकाल के अनुपालन के साथ साथ, साफ सफाई तथा पार्किंग की पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है। दीक्षान्त समारोह में विभिन्न स्थानों से उपाधि प्राप्त करने के लिये आने वाले शिक्षार्थियों के उत्साह को देखते हुए विश्वविद्यालय द्वारा उपाधि वितरण की समुचित व्यवस्था की गयी है। दीक्षान्त समारोह में शामिल होने वाले शिक्षार्थियों को उत्तरीय 03 मार्च को शांतिपुरम, फाफामऊ स्थित विश्वविद्यालय मुख्यालय से वितरित किये जायेंगे।

पत्रकार वार्ता में प्रो सत्यपाल तिवारी, डॉ अरुण कुमार गुप्ता डॉ आनंदानंद त्रिपाठी एवं डॉ प्रभात चंद्र मिश्रा आदि उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *